Skip to content

प्रत्यय की परिभाषा, भेद और इसके उदाहरण | Pratyay in Hindi Grammar

प्रत्यय का शाब्दिक अर्थ है – ” प्रति + अय “। प्रति का अर्थ  ‘साथ में ‘, पर बाद में होता है, तथा अय का अर्थ होता है ‘चलने वाला । इस प्रकार प्रत्यय का अर्थ हुआ – शब्दों के साथ , पर बाद में चलनेवाला या लगनेवाला शब्दांश। 

प्रत्यय की परिभाषा – 
वे शब्दांश जो किसी सार्थक शब्द के परे प्रयुक्त होकर अर्थ परिवर्तन की दिशाओं को प्रभावित करते है , उन्हें प्रत्यय कहते है। 
✦ मूल शब्द के बाद लगने वाले शब्दांश को प्रत्यय कहते है। 

✦ प्रत्यय लगाने से शब्द का अर्थ बदल भी सकता है और नहीं भी अथवा आंशिक परिवर्तन भी हो सकता है , क्योंकि ‘प्रत्ययों का प्रयोग नए शब्द निर्माण ‘ में किया जाता है फलस्वरूप नए शब्दों की प्रकृति से ही अर्थ का निर्धारण किया जाता है। 

✦ प्रत्यय का प्रयोग भी उपसर्ग की तरह स्वतंत्र नहीं होता है। 

✦ प्रत्यय हमेशा अविकारी शब्दों के साथ जुड़ते है। 

✦ प्रत्यय अव्यय के स्वरूप होते है क्योंकि इनका रूप लिंग, वचन , काल तथा करक के आधार पर नहीं बदलता है। 

उदाहरण: –

✦ चालक ( चल + अक ) – अक प्रत्यय 
✦ दुकानदार  ( दुकान + दार ) – दार प्रत्यय 
✦ चायवाला ( चाय + वाला ) -दयालु प्रत्यय 
✦ दयालु ( दया + आलु ) – दयालु प्रत्यय 

प्रत्यय के प्रकार –
1 . कृत प्रत्यय
2 . तद्धित प्रत्यय   

1 . कृत प्रत्यय:-
कृत प्रत्यय धातु या क्रिया के अंत में लगते है और उनसे निर्मित शब्दों को ‘कृदंत ‘ ( कृत + अंत ) कहते है। 

कृत प्रत्यय के भेद –
कृत प्रत्यय पांच प्रकार के होते है। 

1 . कर्तृवाचक कृत प्रत्यय 
2 . कर्मवाचक कृत प्रत्यय 
3 . करणवाचक कृत प्रत्यय 
4 . भाववाचक कृत प्रत्यय 
5 . विशेषणवाचक कृत प्रत्यय

1 . कर्तृवाचक कृत प्रत्यय – वे कृत प्रत्यय जो धातु के अंत में लग कर कर्त्ता का बोध कराने वाले शब्दों का निर्माण करते है , कर्तृवाचक कृत प्रत्यय कहलाते है। 

धातु प्रत्ययकृदंत
चला ( ना ) अकचालक
जात अकजातक 
पाठअकपाठक
घातअकघातक 
लिख अकलेखक
घाल अकघालक
पालअकपालक
नायअकनायक
तारअकतारक
कारअककारक
पावअकपावक
धारअकधारक 
चालआकचालाक
तैरआकतैराक
पैरआकपैराक
उड़ आकूउड़ाकू
लड़आकूलड़ाकू
पढ़आकूपढ़ाकू 
जड़इयाजड़िया
धुनइयाधुनिया
लखइयालखिया
नियारइयानियारिया
कमा एराकमेरा
लूटएरालूटेरा 
बस एराबसेरा 
चालआकचालाक
तैर आकतैराक
बसएराबसेरा
बुझ ( ना )अक्कड़ बुझक्कड़ 
कूद (ना )अक्कड़ कुड़क्कड़
पी (ना ) अक्कड़ पियक्कड़   
भूल (ना )अक्कड़ भुलक्क़ड 
घूम ( ना )अक्कड़ घुमक्कड़ 
नाच ( ना )  अक्कड़ नचक्कड़ 
काट (ना )ऐया (वैया ) कटैया 
परोस (ना )ऐया (वैया ) परोसैया
बजा (ना )ऐया (वैया ) बजैया 
गा (ना )ऐया (वैया ) गवैया 
भर (ना )ऐया (वैया ) भरैया
रख (ना ) ऐया (वैया ) रखैया 
खे ( ना )ऐया (वैया ) खिवैया 
रच (ना )ऐया (वैया ) रचैया 
भाग (ना )ओड़ाभगोड़ा
हंस (ना )ओड़ाहंसोड़ा
लड़ (ना)ऐतलड़ैत
चढ़ (ना ) ऐतचढ़ैत
फेंक (ना )ऐतफिकैत 
श्रोताश्रोता 
दा तादाता
त्रा तात्राता 
ध्यानताध्याता 
ज्ञाताज्ञाता 
पालनहारपालनहार 
तार (ना )हारतारनहार
चाखनहारचाखनहार
मरनहारमरनहार
टूटनहारटूटनहार 
जा (ना )वालाजाने वाला
रोक (ना ) वालारोकने वाला 
खा (ना )वालाखाने वाला 
पढ़ (ना )वालापढ़ने वाला
दिख (ना )वालादिखने वाला 
हँस (ना )वालाहँसने वाला
बोल (ना )वालाबोलने वाला
लिख ( ना )वालालिखने वाला 
दे (ना ) वालादेने वाला

” Dear Aspirants ” Rednotes आपकी तैयारी को आसान बनाने के लिए हर संभव कोशिश करने का पूरा प्रयास करती है। यहाँ पर आप भिन्न भिन्न प्रकार के टेस्ट दे सकते है जो सभी नए परीक्षा पैटर्न पर आधारित होते है। और यह टेस्ट आपकी तैयारी को और सुदृढ़ करने का काम करेगी। हमारे सभी टेस्ट निशुल्क है। अगर आपको हमारे द्वारा बनाये हुए टेस्ट अच्छे लगते है तो PLEASE इन्हे अपने दोस्तों, भाई, बहनो को जरूर share करे। आपको बहुत बहुत धन्यवाद।

  • NOTE :- अगर Mock Tests में किसी प्रकार की समस्या या कोई त्रुटि हो, तो आप हमे Comment करके जरूर बताइयेगा और हम आपके लिए टेस्ट सीरीज को और बेहतर कैसे बना सकते है इसलिए भी जरूर अपनी राय दे।

Share With Your Mates:-

Hindi

Maths

Reasoning

India GK

Computer

English

Rajasthan GK

NCERT

Recent Post